eid shayari 2019 memine.net
☪️
ईद का चाँद तुम ने देख लिया 
 चाँद की ईद हो गई होगी
☪️
मिल के होती थी कभी ईद भी दीवाली भी
 अब ये हालत है कि डर डर के गले मिलते हैं     
☪️
 वादों ही पे हर रोज़ मिरी जान न टालो 
है ईद का दिन अब तो गले हम को लगा लो
☪️
दिए जलते और जगमगाते रहें हम 
आपको इसी तरह याद आते रहें
 जब तक ज़िंदगी है ये दुआ है हमारी
 आप ईद के चाँद की तरह जगमगाते रहें 
आप को ईद मुबारक
☪️
हर ख्वाहिश हो मंजूर-ए-खुदा मिले 
हर कदम पर रज़ा-ए-खुदा फ़ना हो 
लब्ज़-ए-ग़म यही हैं दुआ
 बरसती रहे सदा रहमत-ए-खुदा
 ईद मुबारक
☪️
चाँद से रोशन हो रमजान तुम्हारा 
इबादत से भरा हो रोज़ा तुम्हारा 
हर रोज़ा और नमाज़ कबूल हो तुम्हारी
 यही अल्लाह से है, दुआ हमारी  
☪️
कोई इतना चहै तुमे को बटना, 
कोई तम्हारे इत्तिने नाज़ उथयै से बताना, 
ईद मुबारक को हर के लिए दिन तमसे, 
कोइ हमरी तराह काहे को बटना।
☪️


अर्ज़ किया है ….ज़रा गौर फर्मायिगा।
 उनको देखूं तो टूटे मेरा रोजा। 
उनको देखूं तो टूटे मेरा रोज़ा। 
चाँद को देखे बिना भी ईद होती है कभी।
☪️
सूरज की किरणें, 
तारों की बहार,
 चांद की चांदनी, 
अपनों का प्यार, 
आपका हर पल हो खुशहाल, 
उसी तरह मुबारक हो आपको ईद का त्यौहार।
 ईद मुबारक
☪️☪️☪️☪️☪️